-->

coronavirus status

इस साल लिस्ट होने वाली कंपनियों का एम कैप 1.28 लाख करोड़ रुपए हुआ, साथ ही निवेशकों को भी हुआ शानदार मुनाफा

इस साल लिस्ट होने वाली कंपनियों का एम कैप 1.28 लाख करोड़ रुपए हुआ, साथ ही निवेशकों को भी हुआ शानदार मुनाफा

कोरोना संकट के बीच इस साल कई कंपनियों की लिस्टिंग शेयर बाजार में हुई है। एसबीआई कार्ड्स, हैप्पिएस्ट माइंड्स सहित कई अन्य कंपनियां शामिल हैं। इन कंपनियों ने लिस्टिंग के दिन निवेशकों को शानदार मुनाफा दिया है। इसके अलावा शेयर बाजार में बढ़त को भी सहारा दिया है। बीएसई में लिस्टेड कंपनियों का कुल मार्केट कैप बीते हफ्ते रिकॉर्ड हाई 161 लाख करोड़ रुपए स्तर को पार कर चुका है। इसमें नई लिस्टिंग वाली कंपनियों की हिस्सेदारी 1.28 लाख करोड़ रुपए की है।

निवेशकों को हुआ शानदार मुनाफा

आज सोमवार को बाजार में दो कंपनियां मझगांव डाक शिपबल्डर्स और यूटीआई एएमसी की लिस्टिंग हुई है। निवेशकों को सरकारी कंपनी मझगांव डाक शिपबिल्डर्स से 49% का मुनाफा हुआ है। जबकि यूटीआई एएमसी से निवेशकों को निराशा हाथ लगी। हालांकि, निवेशकों को इस साल लिस्ट होने वाली कंपनियों से अच्छा मुनाफा हुआ है। निवेशकों को मुनाफे के लिहाज से हैप्पिएस्ट माइंड्स से सबसे ज्यादा लाभ मिला है। कंपनी ने लिस्टिंग के दिन 111% का मुनाफा दिया था। इसके अलावा रूट मोबाइल और केमकॉन स्पेशियलिटी से भी निवेशकों को अच्छा मुनाफा हुआ।

इस साल लिस्ट हुए कंपनियों से मुनाफा

कंपनी बंद भाव लिस्टिंग डेट मार्केट कैप (हजार करोड़ रुपए) मुनाफा (%)
एसबीआई कार्ड्स 847.00 16 मार्च 79.59 -13
रोस्सारी बायोटेक 756.65 23 जुलाई 3.92 57.65
माइंड स्पेस बिजनेस पार्क 303.84 7 अगस्त 18 11
हैप्पिएस्ट माइंड्स टेक 344.40 17 सितंबर 5.05 111
रूट मोबाइल 764.35 21 सितंबर 4.34 105
केमकॉन स्पेशियल्टी 434.85 1 अक्टूबर 1.59 115
कैम्स 1309.40 5 अक्टूबर 6.38 23
यूटीआई एएमसी 476.60 12 अक्टूबर 6.04 -11
मझगांव डाक शिपबिल्डर्स 173.00 12 अक्टूबर 3.48 49

मार्केट कैप में हिस्सेदारी

सोमवार को बीएसई में लिस्टेड कंपनियों का कुल मार्केट कैप 160.39 लाख करोड़ रुपए स्तर के पार रहा। इससे पहले 8 अक्टूबर को मार्केट कैप 161.12 लाख करोड़ रुपए के स्तर पर पहुंचा था, जो इसका सर्वोच्च स्तर भी है। इससे पहले मार्केट कैप का यह स्तर जनवरी के दौरान 160 लाख करोड़ रुपए के स्तर को छुआ था। इस दौरान बाजार में निवेशकों ने अच्छी कमाई की। 2020 में मार्केट कैप के लिहाज से नई लिस्टिंग वाली कंपनियों की भी हिस्सेदारी 1.28 लाख करोड़ रुपए की रही। जबकि इसमें बड़ी हिस्सेदारी दिग्गज कंपनियों का रहा। इसमें आरआईएल, टीसीएस और इंफोसिस जैसे दिग्गज कंपनियां शामिल हैं।

बाजार के दिग्गज कंपनियों के मार्केट कैप में इजाफा

कंपनी 17 जनवरी को एमकैप 12 अक्टूबर को एमकैप बढ़त
आरआईएल 11 लाख करोड़ रुपए 15.12 लाख करोड़ रुपए 4.12 लाख करोड़ रुपए
टीसीएस 7.76 लाख करोड़ रुपए 10.66 लाख करोड़ रुपए 2.9 लाख करोड़ रुपए
एचडीएफसी बैंक 5.66 लाख करोड़ रुपए 6.66 लाख करोड़ रुपए 1 लाख करोड़ रुपए
एचयूएल 3.18 लाख करोड़ रुपए 5 लाख करोड़ रुपए 1.18 लाख करोड़ रुपए
इंफोसिस 3 लाख करोड़ रुपए 4.78 लाख करोड़ रुपए 1.78 लाख करोड़ रुपए

सोमवार को बाजार लगातार आठवें दिन बंद हुआ है। आज बीएसई सेंसेक्स 84.31 अंक ऊपर 40,593.80 पर और निफ्टी 16.75 अंक ऊपर 11,930.95 पर बंद हुआ। बाजार में मेटल, ऑटो और बैंकिंग शेयर गिरावट रही। जबकि निफ्टी आईटी इंडेक्स 364 अंकों से ज्यादा की तेजी के साथ बंद हुआ है। वहीं, दूसरी ओर बाजार में आज ज्यादातर न्यू लिस्टेड कंपनियां गिरावट के साथ बंद हुए हैं। जैसे मझगांव डाक शिपबल्डर्स का शेयर 20% नीचे बंद हुआ।



Download Dainik Bhaskar App to read Latest Hindi News Today
Market Capitalization Of BSE-Listed Companies Data 2020: From SBI Cards TO Happiest Minds IPO


from Dainik Bhaskar https://ift.tt/30Zn8VD
via Current Affairs

0 Response to "इस साल लिस्ट होने वाली कंपनियों का एम कैप 1.28 लाख करोड़ रुपए हुआ, साथ ही निवेशकों को भी हुआ शानदार मुनाफा"

Post a comment

coronavirus

Iklan Atas Artikel

Iklan Tengah Artikel 1

Iklan Tengah Artikel 2

Iklan Bawah Artikel